• VNM TV

34 करोड़ का चाइनीस माल सिर्फ वड़ोदरा में ही बिक जाता है..



वड़ोदरा व्यापर भी चीन पर निर्भर 34 करोड़ का चाइनीस माल सिर्फ वड़ोदरा में ही बिक जाता है।


शहर में चाइनीस उत्पादन का भारी मात्रा में विरोध हो रहा है। शहर जिले में आए फार्मा और केमिकल औद्योगिक इकाइयों एवं छोटे बड़े व्यापारियों द्वारा वार्षिक 34 हज़ार करोड़ का सामान बेचा बिक रहा है।

जिसमें 33 हज़ार करोड़ का कच्चा माल और एक हज़ार करोड़ के चीनी बनावट के उत्पाद बेचे जा रहे हैं। फार्मा कंपनी में वार्षिक आठ हजार करोड़ एपीआई चीन से आता है। सेंटर फॉर कल्चर एंड डेवलपमेंट रिसर्च सेंटर के जयेश शाह अनुसार 1993 से ये सिलसिला जारी है। वडोदरा सिर्फ मंगल बाजार में ही वार्षिक 300 करोड़ का चीनी माल बिकता है। इसके अलावा मरी माता वाली गली, राजमहल रोड, रावपुरा इसके मुख्य बिक्री केंद्र है। तमाम त्योहारों में चाइनीस उत्पाद ही बेचे और खरीदे जाते हैं। प्लास्टिक, इलेक्ट्रिकल्स, हैंडलूम, रेडीमेड कपड़ों से लेकर हेयर क्लिप्स तक चीन की है। शहर के व्यापारियों के पास 70% से अधिक चीनी माल है। अब देश को आत्मनिर्भर बनाने जरूरत है स्वदेशी विकल्प तैयार करने की।

0 views